त्वचा पर गहरे धब्बे यानी टैनिंग (tanning) से हैं परेशान तो अपनाए ये नुस्खे

त्वचा पर गहरे धब्बे यानी टैनिंग (Tanning) से हैं परेशान तो अपनाए ये नुस्खे

  • Lifestyle हिन्दी
  • no comment
  • घरेलू नुस्खे
  • 486 views
  • हमारे शरीर और त्वचा (Twacha) के लिए वैसे तो सूरज (Suraj – Sun) की रोशनी बहुत लाभकारी है लेकिन कई बार तेज धूप से त्वचा पर काले या लाल धब्बे पड़ जाते हैं। सूरज की रोशनी की रोशनी के संपर्क में आने पर त्वचा में पिगमेंटेशन यानि मेलानिन नामक हार्मोन का स्राव बढ़ जाता है जिससे त्वचा में लाल या काले धब्बे पड़ जाते हैं जिसे टैनिंग (Tanning) कहा जाता है। अगर त्वचा संवेदनशील है तो कई बार सर्दियों के मौसम की गुनगुनी धूप भी त्वचा की टैनिंग कर देता है। ऐसे लोगों को धूप में बैठना मुश्किल हो जाता है। इन लोगों के लिए गर्मियों के मौसम में घर से बाहर तक निकलना मुश्किल हो जाता है। गर्मियों की छुट्टियों में मौज मस्ती, फैशनेबल कपड़े और ट्रैंडी लुक (Trendy Look) जहां छुट्टियों को यादगार बनाते हैं, धूप में ज्यादा समय बिताने से त्वचा की गहरी रंगत या काले धब्बों से परेशान हो जाते हैं। त्वचा पर पडऩे वाली सूर्य की हानिकारक किरणों के असर कम करने के लिए कुछ सावधानियों के साथ टैनिंग को कम करने के कुछ उपाय हैं।

    टैनिंग हटाने के घरेलू उपाय – Sun Tanning Hatane Ke Upay – Tan Removal Tips




    सूरज की रोशनी (Suraj Ki Roshni) में बरतें ये सावधानियां

    धूप में निकलने से पहले या सूरज की किरणों के संपर्क में आने से पहले सनस्क्रीन लोशन (Sunscreen Lotion) से अपनी त्वचा को सुरक्षा कवच देना जरूरी है। हालांकि पहले यह जानना जरूर है कि आपकी त्वचा के लिए कौन-सा सनस्क्रीन लोशन उचित रहेगा:

    यूवीए और यूवीबी में से करें चुनाव – UVA and UVB Protection

    सनस्क्रीन चुनते समय यह जान लें कि यूवीए और यूवीबी युक्त सनस्क्रीन प्रोटेक्शन सब से बेहतर हैं। सनस्क्रीन लेते समय उस पर लिखे तत्वों की विस्तार से जानकारी हासिल कर लें। एसपीएफ 20 और 90 में सुरक्षा के मामले में केवल पांच प्रतिशत का अंतर है। भारतीय जलवायु के अनुसार, एसपीएफ 20 यहां के लोगों की त्वचा के लिए उचित है। यूवीए तत्व सन टैनिंग जबकि यूवीबी युक्त तत्व स्किन कैंसर से बचाते हैं।

    बाजार में आसान से सुलभ उत्पाद

    यूवीए का पैमाना यूवीए रेटिंग से तय किया जाता है जो 4-5 बूट स्टार रेटिंग टैन कंट्रोल के लिए काफी मानी जाती है। यूवीए सनस्क्रीन जेल, ऐक्ने, यूवी जेल, फोटोस्टेबल सनस्क्रीन, फेसगार्ड सनस्क्रीन आदि उत्पाद बाजार में आसानी से सुलभ हैं।



    धूप में निकलने से आधा घंटा पहले लगाएं

    सनस्क्रीन लोशन का सही मात्रा में प्रयोग आप को सन टैनिंग (Sun Tanning) से बचाव करता है। धूप में निकलने से कम से कम आधा घंटा पहले इसे त्वचा पर लगाएं। यह लगभग दो घंटे तक आप की त्वचा को सुरक्षा देता है और हर दो घंटे बाद फिर से सनस्क्रीन लगाना जरूरी है।

    त्वचा के अनुसार खरीदें सनस्क्रीन

    ऑयली और ऐक्ने प्रोन त्वचा वालों के लिए जैल आधारित सनस्क्रीन लोशन जबकि रुखी त्वचा वालों के लिए क्रीम या लोशन बेस्ड सनस्क्रीन का इस्तेमाल करना चाहिए। जैसे एंसोलर 60 सनस्क्रीन लोशन, रिवेला सनस्क्रीन और सनग्रेस टोटर सनस्क्रीन लोशन आदि में चुनाव कर सकते हैं।

    खिलाडिय़ों के लिए कई अलग सनस्क्रीन – Sunscreen For Players

    खिलाडिय़ों के लिए सनस्क्रीन का चुनाव करते समय ज्यादा सचेत रहना चाहिए, इनमें ज्यादा फिजिकल बैरियर्स होते हैं। जैसे जिंक ऑक्साइड जो क्रिकेट खिलाडिय़ों के चेहरे पर मैच के दौरान लगा नजर आता है। सनक्रॉस सॉफ्ट सनस्क्रीन क्रीम, मैट फिनिश वाला ला शील्ड सनस्क्रीन और टिंट इफैक्ट वाला रिवेला टिंट सनस्क्रीन भी इसी तरह के अन्य उत्पाद हैं।

    खतरनाक न बनने दें टैनिंग

    टैनिंग खतरनाक स्थिति में आ जाए तो उसका ट्रीटमेंट करवाने की जरूरत पडती है। माइक्रो डर्मब्रोशन, सुपरफेशियल केमिकल पील्स और लेजर थेरैपी से इसका इलाज किया जाता है जिस के बाद त्वचा निखरी और मुलायम नजर आती है।

    टैनिंग दूर करने के कुछ घरेलू उपाय – Tanning Hatane Ke Gharelu Upay

    दही और बेसन से स्नान – Dahi Aur Besan

    दही में मौजूद लैक्टिक ऐसिड से अगर हफ्ते में दो बार स्नान किया जाए तो टनिंग साफ हो जाएगी। बेसन, नीबू का रस और दही मिला लें। इस पेस्ट को माथे गरदन और चेहरे पर लगाएं और 15 मिनट बाद ठंडे पानी से धो लें, लाभ् मिलेगा।

    स्क्रब बनाकर करें गर्दन की टैनिंग दूर

    गर्दन की टैनिंग दूर करने के लिए घर पर नींबू, चीनी और तेल को मिला कर पेस्ट या स्क्रब तैयार करें। इससे गर्दन पर धीरे-धीरे मलें, लाभ होगा।

    शहद और नींबू का पैक बना बनाएं हाथों को सुंदर

    आधा नींबू के रस और 1 चम्मच शहद के मिश्रण को चेहरे पर और किसी भी प्रभावित क्षेत्र पर 20 मिनट तक लगाएं और फिर धो लें।

    टमाटर, नींबू का रस और दही का पैक

    टमाटर के गूदे के दो चम्मच, दही और नींबू रस का 1-1 चम्मच अच्छी तरह से मिलाकर प्रभावित क्षेत्रों पर लगाएं और 25-30 मिनट तक रखने के बाद धो लें।

    हल्दी और नींबू का पैक भी कारगर

    चेहरे पर टैन हो तो एक कटोरी में हल्दी पाउडर का एक और नींबू रस के 4 चम्मच डालकर पेस्ट बनाकर इसे प्रभावित क्षेत्रों पर लगाएं और 30 मिनट सूखने के बाद धो दें। नींबू के शरीर को गोरा करने के गुण और हल्दी के बेहतरीन एंटी-बैक्टीरियल गुण टैनिंग रोकने में मददगार हैं।

    दूध और केसर भी बहुत उपायोगी

    कच्चे दूध और केसर मिलाकर बना पैक चेहरे पर अत्याधिक मेलेनिन सिंथेसिस को रोकता है जिसके नियमित प्रयोग से चेहरे की टैनिंग दूर होती है। केसर के 4-5 दाने कच्चे दूध में आधे घंटे के लिए डूबोकर रखें और फिर दूध में केसर मिलाकर चेहरे पर इस का प्रयोग करें और पांच मिनट के लिए सूखाकर इसे पानी से धो लें। साथ ही एलोवेरा जेल, हल्दी, केसर, चंदन, नींबू, ककड़ी का रस, चंदन का पेस्ट, बादाम का तेल, मक्खन, जैतून का तेल आदि टैनिंग रोकने में बेहद मददगार है।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *