जानिए बृहस्पति (गुरु) ग्रह के बारे में(know about jupiter planet)

जानिए बृहस्पति (गुरु) ग्रह के बारे में(Know about Jupiter Planet)

  • Lifestyle हिन्दी
  • 2 comment
  • धर्म-संस्कृति
  • 39860 views
  • हमारे नवग्रहों में बृहस्पति का उच्चत्तम स्थान है और इन्हे सबसे प्रभावशाली ग्रह माना गया है! बृहस्पति या गुरु (Guru भगवान बृहस्पति) वैदिक ज्योतिष में देवताओं के भी शिक्षक और गुरु माने जाते हैं! बृहस्पति एक बहुत ही शुभ ग्रह तथा भाग्य, नियम धर्म, दर्शन, अध्यात्म, धन और संतान का प्रतिनिधित्व करता है! अनुकूल होने पर यह ग्रह नाम, शोहरत, सफलता, सम्मान, धन, संतान और संतान के साथ अच्छे संबंध देता है

    ज्योतिष विज्ञानं के अनुसार यह धनु और मीन राशि का स्वामी है और पुनर्वसु, विशाखा और पूर्वाभाद्रपद नक्षत्रों का भी यह स्वामित्व रखता है. बृहस्पति का रंग पीला है, गुरुवार दिन है, और उत्तर-पूर्व उसकी दिशा है। गुरु ग्रह किसी भी जन्म कुंडली में 2, 5, 9, 10, 11 भाव का कारक माना जाता है! बृहस्पति से प्रभावित व्यक्ति आम तौर पर धार्मिक, आस्थावान, दर्शनिक विज्ञान में रूची रखने वाले एवं सत्यनिष्ठ होते हैं!

    बृहस्पति ग्रह (Guru Grah) की कुछ विशेष जानकारी – Jupiter Planet Hindi




    • दिन – गुरुवार
    • रंग – पिला
    • दिन – गुरुवार
    • अंक – 3
    • दिशा – पूर्वोत्तर
    • राशिस्वामी – धनु (Saggitarrus) और मीन (Pisces)
    • नक्षत्र स्वामी – पुनर्वसु, विशाखा और पूर्वाभाद्रपद
    • रत्न – (Stone/Gems) – पुखराज (Yellow Sapphire)
    • धातु – सोना (Gold)
    • देव – ब्रम्हा (Lord Brahma)
    • उच्च राशि – कर्क (Cancer)
    • नीच राशि – मकर (Caprocorn)
    • मूल त्रिकोण – धनु (Saggitarrus)
    • महादशा समय – 16 वर्ष



    गुरु बृहस्पति का बीज मन्त्र – ‘ॐ ग्रां ग्रीं ग्रौं स: गुरवे नम: ।’

    कारक:
    बैंकिंग, न्यायालय, संपत्ति, संतान, ऐश्वर्य, राजनीति, वकालत, पीला रंग, वेद, वर्ण, ज्ञानी, गरु, चर्बी, विद्या, पुत्र, तीर्थयाञा, पौत्र, बुद्धि, धार्मिक कार्य, न्यायाधीश व् विवाह आदि का कारकत्व हैं।

    शुभ फल या लक्षण: Effects of Benefice Jupiter – Shubh Guru Ke lakshan

    जिनकी जन्मकुंडली वे बृहस्पति शुभ स्थिति में होता है तो ऐसे व्यक्ति विद्वान, शासक, मंत्री, शासनप्रिय, आचार्य, न्यायाधीश, अर्थशास्त्री, अध्यापक, लेखक, कवि, प्रशासनिक अधिकारी, धार्मिक पुरुष या किसी अन्य उच्च पद पे आसीन होते हैं! इस ग्रह से प्रभावित व्यक्ति शारीरिक तौर पर मोटे तथा लंबे कद के हो सकते है! इनकी आँखों में चमक और चेहरे पे तेज देखा जा सकता है! ये बहुत ही परिश्रमी, सत्य बोलने वाले, ज्ञानी, अपने विचारों से प्रभावित करने वाले और धार्मिक प्रवति के होते हैं!

    अशुभ फल या लक्षण: Effects of Malefic Jupiter – Ashubh Guru Ke lakshan




    जन्म कुंडली में विभिन परिस्थितियां इस तरह से हो सकती है जिसमे बृहस्पति या गुरु ग्रह नीच का अशुभ फल देले वाला हो जाता है! जैसे गुरु का अस्त होना, शत्रु राशि में होना, क्रूर भावो या 6, 8, 12 भावों में होना, पाप गृह के साथ आदि हो सकते है! ऐसी स्थिति में जातक को कुछ अशुभ फल देखने पड़ सकते हैं जैसे मोटापा, पाचन में गड़बड़ी, गुर्दे की बीमारी, सोना गुम होना या चोरी होना, हर्निया, चर्बी की वृद्धि, मानसिक तनाव, अति आशावादी, बच्चों से चिंता और दूसरों पे ज्यादा भरोसे से हानि आदि हो सकते हैं!

    2 thoughts on “जानिए बृहस्पति (गुरु) ग्रह के बारे में(Know about Jupiter Planet)”

    1. Name Dhruv Prakash Bhai Raval
      Birth date 03/03/1989
      Birth place : gadhada Gujarat
      Birt time 5:25 am
      My lucky stone ?

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *