ओट्स खाएं और रहे चुस्त-दुरुस्त व हल्के-फुल्के – health benefits of oats

ओट्स खाएं और रहे चुस्त-दुरुस्त व हल्के-फुल्के – Health Benefits of Oats

  • Lifestyle हिन्दी
  • no comment
  • स्वास्थ्य
  • 326 views
  • ओट्स (Oats) जिसे हिंदी में जई कीते हैं, एक अधिक फाइबर वाला अनाज हैं। जई एक तरह के घास प्रजाति है जिसे पुराने जमाने में लोग घोड़ों को खाने के लिए दिया करते थे। अमेरिका, भारत और यूरोप में जई का सेवन काफी समय पहले से हो रहा था। पहले लोगो को इस अनाज के बारे में सही जानकारी नहीं थी। जैसे-जैसे लोगों को इस अनाज के लाभों के बारे में लोग जानते जा रहे हैं, इसका इस्तेमाल लगातार बढ़ रहा है। ओट्स के बीज से बने आटे को ओटमील (Oatmeal), जई का दलिया या जई का आटा कहते हैं। इसे ब्रेकफास्ट में खाना बहुत फायदेमंद है। यह हल्का और जल्दी पचने वाला खाद्य पदार्थ हैं। इसीलिए रोगी को डॉक्टर इसे खाने की सलाह देते हैं।

    ओट्स खाने के फायदे – Oats Khane Ke Fayde Aur Labh




    आयुर्वेद में भी ओट्स का जिक्र – Oats in Ayurveda

    आयुर्वेद में भी ओट्स का जिक्र है जिसे यहां याविका नाम से जानते हैं। ओट्स के बीजों से बना आटे के नाम से जाना जाता हैं। जई का आटा और जई का दलिया (Dalia – Daliya) भी कहते हैं। इसमें अनेक पोष्टिक तत्व पाए जाते हैं जो शरीर को स्वस्थ रखते हैं। ओट्स के पौधे का इस्तेमाल कर दवाई भी बनाई जाती है। यह दवाई अनेक रोगों पर काम करती हैं। सर दर्द, थकावट, पीरियड में दर्द, नींद न आना, तनाव में रहना ऐसी समस्याए हैं जो सभी के साथ रहती हैं। ये समस्याएं नसों की दुर्बलता से होती है। ओट्स के पौधे से बनने वाली यह दवाई नसों की दुर्बलता को पूरी तरह दूर कर देती हैं जिसे कई रोगों से मुक्ति मिलती है।

    ओट्स को आहार लेने और अन्य लाभ – Oats Khane Ke Labh

    कब्ज (Constipation) दूर कर पेट की परेशानियां करे दुरुस्त

    अगर आपको कब्ज की समस्या रहती हैं तो ब्रेकफास्ट में ओट्स (दलिये) का सेवन करें। यह आहार सभी तरह के यह पोषक तत्वों से युक्त और जल्दी पचने वाला खाद्य पदार्थ हैं। यह पेट को साफ कर कब्ज की समस्या और पेट की अन्य परेशानियों को दूर करता है। जई एक बेहतरीन पाचक है जिसके कारण यह आसानी से पच जाता है। जई पेट को साफ करने का काम करता है और कब्ज की समस्या दूर हो जाती है। शरीर में जमा पित्त भी जई खाने से खत्म हो जाता है।

    कोलेस्ट्रॉल और मधुमेह से दिलाए निजात – Oats For Cholesterol & Diabetes

    जई से बना दलिया में कैलोरीज और फैट कम पाया जाता हैं। इस कारण यह आसानी से पच जाता हैं जिस कारण इसके सेवन से शरीर में कोलेस्ट्रॉल का लेवल कंट्रोल में रहता हैं। वहीं, पोषक तत्वों से भरपूर ओट्स का आहार शरीर को स्वस्थ रखने के साथ-साथ शुगर को भी नियंत्रित रखता हैं। मधुमेह के मरीजों के लिए इसका सेवन बहुत फायदेमंद होता हैं। खराब खानपान से हृदय रोगों के कारण आज सबसे ज्यादा मौतें हो रही हैं। रोजाना जई का सेवन करने से हृदय रोगों से बचे रह सकते हैं। इस लिहाज से यह एक उत्तम आहार है।

    शारीरिक और मानसिक कमजोरी करे दूर

    बढ़ती उम्र के साथ-साथ शारीरिक और मानसिक कमजोरी खान-पान पर निर्भर करती है। ओट्स (Oats) में मौजूद पौष्टिक तत्वों से युक्त भोजन बुढ़ापे में भी आपकी सभी समस्याओं को कम करेगा। रोजाना इस दलिये का सेवन करने से आपकी स्मरण शक्ति बढ़ती उम्र के साथ कम नहीं होगी।

    शरीर की अतिरिक्त चर्बी (Extra Fat) हटाए, मूड भी रखे सही

    अधिक समय तक बैठ के काम करने और अधिक मिर्च मसालेदार भोजन खाने से लोगों का पेट निकल आत हैं जो आपकी सेहत पर बुरा असर डालता है। अगर आप रोजाना जई का सेवन करे तो कुछ ही महीनों में यह आपके पेट पर जमी अतिरिक्त चर्बी को हटा देगा। ओट्स का सेवन शरीर में सेरोटोनिन की मात्रा बढ़ाकर दिमाग को शांत रहेगा। इससे आपको गुस्सा कम आता हैं और तनाव कम होता हैं।



    खुजली दूर करे, त्वचा पर पेस्ट लगाना फायदेमंद

    त्वचा पर खुजली होने पर जई का पेस्ट लगाने से जल्दी ही फायदा होगा। अगर आपके शरीर में खुजली हो तो नहाने के पानी में ओट्स मिलाकर नहाने से बहुत जल्द खजली दूर हो जाएगी। त्वचा में ग्लो लाकर खुद को सुंदर बनाना के लिए ओट्मील (Oatmeal) का इस्तेमाल करें। कच्चे दूध में ओट्स मिलाकर इसका पेस्ट त्वचा पर लगाने से इसमें ग्लो आएगा और आप खुद को पहले से ज्यादा चमकते-दमकते पाओगे।

    कैंसर (Cancer) जैसी बीमारी से करे रक्षा

    ओट्स का दलिया (Oats Ka Dalia) खाने से आप कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी से बच सकते हैं। रोजाना ओट्स का सेवन करने से इसमें मौजूद फायटो केमिकल कैंसर के खतरे को कम कर देता हैं। कई ऐसे दावे वैज्ञानिक शोध के अनुसार इस बात को साबित करने को लेकर किए जा चुके हैं।

    ब्रेकफास्ट के लिए ओट्स बनाने की आसान विधि – Oats Benefits in Breakfast

    आवश्यक सामग्री

    • कटोरी ओट्स
    • कटोरी सूजी
    • चम्मच बारीक कटे प्याज
    • चम्मच बारीक टमाटर
    • चम्मच बारीक शिमला मिर्च
    • चम्मच बारीक कटी हरी मिर्च
    • चम्मच चना दाल
    • चम्मच उरद दाल
    • चम्मच राइ
    • चम्मच करी पत्ता
    • कप मट्ठा
    • 1/2 चम्मच खाने वाला सोडा
    • चम्मच तेल
    • चम्मच बटर
    • आधा चम्मच गर्म मसाला
    • नमक स्वादानुसार

    ऐसे फटाफट बनाएं ओट्स

    एक कड़ाई में ओट्स और सूजी मिलाकर उसे धीमे आंच पर भून लें। इसके बाद इसे ठंडा कर लें। दूसरी कढ़ाई में तेल गर्म कर उसमें राई और करी पत्ता डालें। इसके बाद उसमें उड़द दाल डालकर उसे हल्का भूरा कर लें। अब इसमें प्याज डालकर हल्का भूरा कर लें और शिमला मिर्च डाल दें। एक दूसरे बर्तन में गर्म पानी में गाजर, मटर, गोभी और बीन्स को हल्का उबाल लें। अब सब्जियों को निकाल कर उसे प्याज में मिला लें और ऊपर से नमक डालकर इसे अच्छे से मिला लें। अब इसमें तीन कप गर्म पानी डालें और इसे उबाल लें। उबाल आने के बाद इसमें ओट्स और सूजी भी मिला दें जिसे जल्दी-जल्दी हिलाएं ताकि ओट्स पानी को अच्छी तरह से सोख लें। इसमें नींबू रस मिला दें और दो-तीन मिनट धीमी-धीमी आंच पर रखे रहने दें। अब इसमें हरा धनिया और नारियल डालें और गर्मागर्म परोसें।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *