सेहत के लिए फायदेमंद है ग्रीन टी, पीएं और पाएं उत्तम स्‍वास्‍थ्‍य (green tea)

सेहत के लिए फायदेमंद है ग्रीन टी, पीएं और पाएं उत्तम स्‍वास्‍थ्‍य (Green Tea)

  • Lifestyle हिन्दी
  • no comment
  • स्वास्थ्य
  • 550 views
  • ग्रीन टी (Green Tea) के फायदों को जानकार आजकल यह बहुत तेजी से लोकप्रिय हो रही है। ग्रीन टी को कैमिला साइनेंसिस की पत्तियों को सुखाकर बनाया जाता है। ग्रीन टी एक तरह की चाय है जिसे पीने से कई तरह से स्वास्थ्य को फायदा पहुंचता है। इसलिए पूरी दुनिया में इसके प्रयोग करनेवाले लोगों की संख्या बढ़ रही है और आज यह दुनिया भर में एक बहुत लोकप्रिय पेय बन गया है।

    शोध के अनुसार

    एक फूड रिसर्च पत्रिका में छपी रिपोर्ट के मुताबिक ग्रीन टी (Green Tea) के मुख्य जैव-रासायनिक अवयव ईजीसीजी (एपिगैलोकेटेचीन-3 गैलैट) एक ऑक्सीजनरोधी है। उनका मानना था कि यह उम्र संबंधी रोग के इलाज में फायदेमंद हो सकता है। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्टेम कोशिका की तरह विभिन्न कोशिका में रूपांतरित होने वाली स्नायु प्रजनक कोशिका के उत्पादन में ईजीसीजी बढा़वा देता है।




    ग्रीन टी के फायदे जान दंग रह जाएंगे आप – Geen Tea ke Fayde – Labh

    हृदय रोग से बचाए – Green tea for Heart Disease

    ग्रीन टी शरीर में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करके हृदय रोग और हृदय स्ट्रोक को रोकने में मदद करती है। दिल का दौरा पडऩे के बाद यह कोशिका की मृत्यु को रोकता है और हृदय कोशिकाओं के दोबारा बनने की गति को बढ़ाता है।

    कैंसर के जोखिम को करे दूर – Green Tea for Cancer

    ग्रीन टी (Green Tea) कैंसर के जोखिम को कम करने में मदद करता है। ग्रीन टी में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट विटामिन सी से 100 गुना और विटामिन ई से 24 गुना अधिक प्रभावी होता है। यह कैंसर से शरीर की कोशिकाओं की रक्षा करने में मददगार है।

    वजन घटाकर शरीर को मोटापे से बचाए – Green Tea motape ke liye

    ग्रीन टी वजन घटाने में बहुत मददगार है। यह वसा को जलाता है और स्वाभाविक रूप से उपापचय दर को बढ़ा देता है। यह सिर्फ एक दिन में 70 कैलोरी तक को जला देता है। यह एक वर्ष में लगभग 3-4 किलोग्राम के करीब वजन घटने के बराबर हो जाता है। साथ ही ग्रीन टी वसा कोशिकाओं में ग्लूकोज की आवाजाही को रोक मोटापे से बचाता है। यदि स्वस्थ आहार लेते हैं, नियमित रूप से व्यायाम करते हैं और ग्रीन टी पीते हैं, तो मोटापे से कभी भी ग्रस्त नहीं होंगे।




    ग्रीन टी संधिशोथ या गठिया के जोखिम को रोकने और कम करने में मदद करता है। यह उपास्थि को नष्ट कर देने वाले एंजाइम को अवरुद्ध कर उपास्थि की रक्षा करता है।

    हड्डियों को मजबूत बनाए

    ग्रीन टी (Green Tea) में उच्च फ्लोराइड नामक केमिकल पाया जाता है। यह हड्डियों को मजबूत रखने में मदद करता है । यदि रोज ग्रीन टी पीते हैं तो यह अस्थि घनत्व को बनाए रखने में मददगार हो जाता है।

    मस्तिष्क के लिए अति उत्तम ग्रीन टी

    ग्रीन टी दुनिया भर में सबसे प्रचलित पेय पदार्थो में शामिल है। इसके रासायनिक तत्व मस्तिष्क के कोशिकीय प्रक्रिया को प्रभावित कर सकते हैं। ग्रीन टी सेहत के लिए बेहद फायदेमंद है। ग्रीन टी मस्तिष्क की कोशिकाओं के निर्माण के साथ याद्दाश्त में सुधार भी करती है। साथ ही ग्रीन टी में पाया जानेवाला एक अमीनो एसिड तनाव और चिंता दूर करने में मदद करता है।

    यकृत रोग

    ग्रीन टी जिगर की विफलता के साथ लोगों में प्रत्यारोपण की विफलता रोकने में मदद करता है। हरी चाय में हानिकारक मुक्त कण को नष्ट कर देता है।

    उच्च रक्तचाप – Green Tea for High Blood Pressure

    ग्रीन टी उच्च रक्तचाप को रोकने में मदद करता है। हरी चाय पीने से एंजियोटेनसिन को दमन कर रक्तचाप को कम रखने में मदद मिलती है।

    कोल्ड, फ्लू और अस्थमा रोके, एलर्जी से बचाए

    ग्रीन टी (Green Tea) सर्दी या फ्लू होने से रोकता है। इसमें पाया जानेवाला विटामिन सी फ्लू और सर्दी के इलाज में मदद करता है। ग्रीन टी में पाया जानेवाला ञ्जद्धद्गशश्चद्ध4द्यद्बठ्ठद्ग मांसपेशियों को आराम पहुंचता है जो ब्रोन्कियल ट्यूबों को ह्यह्वश्चश्चशह्म्ह्ल करता है और अस्थमा की गंभीरता को कम करता है। वहीं ग्रीन टी का सेवन एलर्जी से राहत दिलाता है।
    कान में संक्रमण

    ग्रीन टी कान में संक्रमण की समस्या में मदद करता है। प्राकृतिक रूप से कान की सफाई के लिए एक ऊई के बाल को हरी चाय में डुबाकर संक्रमित कान में कुछ बूंदे डालकर साफ किया जाए तो लाभ मिलता है।

    दांतों की सडऩ

    ग्रीन टी कई दंत रोगों को फैलानेवाले बैक्टीरिया और वायरस को नष्ट कर देता है। यह मुंह में बदबू पैदा करने वाले जीवाणुओं के विकास को धीमा कर देती है।




    ग्रीन टी के सेवन के दौरान बरतें ये एहतियात – green tea pine ka tarika in hindi – Best time for green tea

    • ग्रीन टी सुबह-सुबह खाली पेट नहीं पीनी चाहिए।
    • ग्रीन टी के साथ दवा न लें, दवा पानी के साथ हीं लें।
    • ग्रीन टी में कैफीन और टेनिन्स पाए जाते हैं जो गैस्ट्रिक जूस को डाइल्यूट कर पेट को नुकसान पहुंचा सकते हैं। इसके बहुत अधि‍क इस्तेमाल से चक्कर आने, उल्टी आने और गैस की प्रॉब्लम हो सकती हैं।
    • खाना खाने से एक या दो घंटे पहले ही ग्रीन टी पी लें।
    • कुछ लोग ग्रीन टी में दूध और चीनी मिलाकर पीते हैं। ग्रीन टी में चीनी और दूध मिलाने से परहेज करें।
    • ग्रीन टी को शहद के साथ मिलाकर पीना फायदेमंद रहेगा।
    • हर दिन दो-तीन कप से ज्‍यादा ग्रीन टी पियेंगे तो यह आपको नुकसान पहुंचाएगी।
    • हमेशा ताजी ग्रीन टी पिएं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *