कैसे पाएं मुंह के छालों से निजात(mouth ulcer home remedies)

कैसे पाएं मुंह के छालों से निजात(Mouth Ulcer Home Remedies)

  • Lifestyle हिन्दी
  • no comment
  • घरेलू नुस्खे
  • 2678 views
  • मुंह के छालों की समस्या और उपाय

    मुंह के छालों की तकलीफ अकसर मसालेदार खाना खाने से होती है। पेट ठीक से साफ न होना, कब्ज रहने के कारण भी मुंह में छाले पड़ते हैं। बीमार होने पर बुखार आने से भी मुंह में छाले आम बात है। अपच रहने, गैस होने और कब्ज से मुंह में छाले और जीभ पर लाल दाने उभरना भी दर्द का एक कारण रहता है। शरीर में पानी की कमी हो जाने पर पेट में गर्मी हो जाती है जिससे यह तकलीफ और बढ़ जाती है। मानसिक तनाव से नींद गायब होना, उससे पेट की गड़बड़ और गैस से भी मुंह के छालों की तकलीफ हो सकती है। दरअसल, मौजूदा दौर में जंक फूड, फास्ट फूड और बाहर होटलों का मसालेदार भोजन और लेट नाइट लाइफ स्टाइल भी इस मर्ज का एक अहम कारण है।

    मुंह के छाले दूर करने के घरेलू उपचार : Mouth Ulcer Home Remedies in Hindi




      1. 1. अरहर ही दाल को बारीक पीस कर मुंह के छालों पर लगाने से मुंह के छाले ठीक हो जाते हैं। साथ ही आहार में भी अरहर की दाल को कब्ज दूर करने और पेट साफ करने में काफी अहम माना जाता है।
      2. 2. सौंफ का प्रयोग भी छालों के लिए अत्यन्त लाभकारी हो सकता है! इसको चबाने से या खाना खाने के बाद प्रयोग करने से नए छाले नहीं आते!
      3. 3. गुनगुने पानी में एक चम्मच नमक मिला कर बने घोल के कुल्ले करने से भी मुंह के छालों से निजात मिल सकती है। इस प्रक्रिया को दिन में कई बार करें।
      4. 4. नीम की दातुन भी मुंह के छालों से राहत पाने में कारगर मानी गई है। नीम के पत्तों का रस भी छालों पर लगाना उपयोगी है। शहद को मुंह के छालों पर लगाने से भी छाले जल्द दूर होंगे।
      5. 5. मुंह के छालों पर गलीसरिन का लेप दिन में चार-पांच बार लगाने पर भी दर्द से राहत मिलेगी। जल्द ही छाले ठीक भी हो जाएंगे।
      6. 6. बेकिंग सोडा में पानी मिला कर पेस्ट बनाकर छालों पर लगाने से भी मुंह के छाले ठीक हो जाते हैं।
      7. 7. छोटी इलायची को पीस कर उसमें शहद मिला कर छालों पर लगाना भी आरामदायक साबित होगा।
      8. 8. एक चम्मच हल्दी पाउडर को एक गिलास गुनगुने पानी में मिला कर घोल के गरारे करना भी मुंह के छालों को दूर करने का रामगाण इलाज है।
      9. 9. रात को सोते वक्त देसी घी मुंह के छालों पर लगाना भी लाभकारी माना गया है।



    • 10. गुड़ का पानी या शरबत भी गले की सूजन और मुंह के छालों का सही इलाज माना गया है। इससे पेट की गर्मी भी दूर होती है।
    • 11. अमरूद के हरे पत्तों को पीस कर उसका रस छालों पर लगाने से भी आराम मिलता है।
    • 12. नारियल पानी पेट की गर्मी को दूर करने में अहम माना जाता है। गर्मी दूर होने से मुंह के छाले भी दूर होते हैं। नारियल का दूध छालों पर लगाने से भी दर्द में आराम मिल जाता है।
    • 13. तुलसी के पत्तों का रस निकाल कर मुंह के छालों पर लगाने से दर्द दूर होता है। तुलसी के पत्तों को चबाना भी उपयोगी है।
    • विटामिन सी की कमी होने से भी मुंह में छाले पड़ सकते हैं। सिट्रस फलों खासकर संतरे में भरपूर मात्रा में विटामिन सी होता है। संतरा, नींबू पानी, अनानास का रस या जूस का सेवन भी लाभकारी होता है।
    • मुंह के छालों को दूर करने के लिए प्याज भी लाभकारी माना गया है। प्याज में मौजूद सल्फर बैक्टीरिया की छुट्टी कर देता है। ऐसे में मुंह के छाले दूर करने के लिए प्याज खाना अच्छा रहता है।
    • नींबू के रस को गुनगुने पानी में मिला कर उसके गरारे करने से मुंह के छाले मिट जाएंगे। नींबू पानी रोज पीने से पेट की गर्मी दूर होगी।
    • पान में इस्तेमाल होने वाला कत्था, अर्जुन की जड़ का चूर्ण और मीठे तेल का मिश्रण छालों पर लगाने से मुंह के रोग नष्ट हो जाते हैं।
    • खाने में दही और लस्सी का सेवन भी पेट की गर्मी और छालों को दूर करने का अहम उपाय है।
    • काली मिर्च और किशमिश को मिला कर चबाना, कच्ची फिटकरी पानी में मिला कर कुल्ला करना भी लाभकारी है। गिलोय, धमास, जावित्री, हरड़े, आंवला, बेहड़े और दाख के काढ़े को ठंडा होने दें। फिर उसमें थोड़ा शहद मिला कर पीने से मुंह के छाले दूर होते हैं।



    मुंह के छाले होने पर बरतें ये परहेज

    • धूम्रपान और खैनी-गुटखा खाना बंद करें।
    • पेट के पाचन तंत्र का संतुलन जरुरी है, कब्ज भी इसका मुख्य कारण हो सकता है!
    • तीखा और तला मसालेदार न खाएं।
    • पर्याप्त नींद ले और रात को भारी खाने से बचें!
    • अधिक ठंडी या अधिक गर्म चीजें खाने से परहेज करें।
    • पानी, जूस और पेय पदार्थ अधिक मात्रा में पीएं।
    • दिन में दो बार ब्रश करें। ब्रश बहुत सख्त न हो।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *