सेहत और पोषकता का खजाना खट्टे-मीठे किशमिश(raisins health benefits)

सेहत और पोषकता का खजाना खट्टे-मीठे किशमिश(Raisins Health Benefits)

  • Lifestyle हिन्दी
  • no comment
  • लाइफ-स्टाइल
  • 553 views
  • सूखे अंगूर से बने किशमिश (Kishmish) एक खट्टा-मीठा ड्राई फ्रूट है। इसमें अंगूर के सारे गुण विद्यमान हैं। दूध के लगभग सभी तत्व किशमिश में मौजूद हैं। आयुर्वेद में किशमिश में मौजूद शर्करा शरीर में आसानी से पच जाती है। इससे शरीर को शक्ति और स्फूर्ति मिलती है। जब कभी भी बहुत ज्यादा परिश्रम या किसी बड़ी बीमारी के बाद जब हमारे शरीर की शक्ति क्षीण हो जाती है। तब खोई ऊर्जा को वापिस हासिल करने के लिए किशमिश (Raisins) शरीर के लिए संजीवनी की तरह है। अंगूर (Grapes) में जितने गुण होते हैं, उतने ही किशमिश में भी पाए जाते हैं। किशमिश को सूखे मेवे का राजा कहा जाता है। यह शरीर को एनर्जी देने के लिए हेल्दी स्नैक्स है।

    किशमिश के फायदे – Kishmish Ke Fayde – Raisins Health Benefits Hindi




    नियमित सेवन बनाए खून और वायु दोष करे दूर

    किशमिश (Kishmish – Raisins) के नियमित सेवन से खून बनता है, वायु दोष दूर होता है, पित्त दूर होता है, कफ दूर होता, और यह हृदय के लिये बड़ी हितकारी तथा हार्ट अटैक को दूर रखने में मदद करती है। किशमिश में आयरन, पोटेशियम, कैल्शियम, मैग्नीशियम और फाइबर की भरपूर मात्रा में है।

    दूध से भी जल्दी पचने वाला पदार्थ

    इस मीठे सेहत के खजाने में सिर्फ अंगूर ही नहीं बल्कि दूध के भी लगभग सभी तत्व पाये जाते हैं। चिकित्सकों का कहना है कि किशमिश को दूध के अभाव में प्रयोग में लाया जा सकता है, क्योंकि किशमिश दूध की तुलना में जल्दी पच जाती है। वृद्धावस्था के दौरान इसका सेवन करने से न केवल बीमारियों से शरीर की रक्षा होती है अपितु यह उम्र वृद्धि में भी सहायक है।

    नियमित किशमिश खाने के लाभ – Health Benefits of Raisins

    वजन बढ़ाने में उपयोगी

    जो लोग वजन बढ़ाने के बारे में सोच रहे है। किशमिश (Raisins) उनके लिए बेहद फायदेमंद है। किशमिश में भरपूर मात्रा में फ्रुक्टोज और ग्लूकोज पाया जाता हैं। जो एनर्जी देने के साथ साथ वजन बढ़ाने में भी मदद करता है। अगर वजन (Weight) बढ़ाना चाहते हैं, तो किशमिश खाना शुरु कर देना चाहिए।

    एनीमिया करे दूर

    किशमिश में काफी मात्रा में आयरन होता है जो कि एनीमिया से लडऩे की शक्ति रखता है। खून को बनाने के लिए विटामिन बी कॉमप्लेएक्सल की जरुरत पढ़ती है और किशमिश इस कमी को पूरी करती है। इसके अलावा इसमें मौजूद कॉपर भी खून में लाल रक्त कोशिका को बनाने में मदद करता है।

    करे बुखार ठीक

    जब किसी को बुखार होता है तो उसे किशमिश (Kishmish – Raisins) खाने की सलाह दी जाती है। किशमिश में मौजूद फिनॉलिक पायथोन्यूेट्रियंट जो कि जर्मीसाइडल, एंटी बॉयटिक और एंटी ऑक्सी डेंट तत्वों की वजह से जाने जाते हैं। वो वाइरल तथा बैक्टीररियल इंफेक्शकन से लड़ कर बुखार को जल्द ठीक कर देते हैं।




    सुचारू करे पाचन तंत्र

    रोजाना किशमिश का सेवन करने से हाजमा ठीक रहता है और पाचन तंत्र भी सुचारू रूप से कार्य करता है। किशमिश लैक्सटिव के रूप में कार्य करती है। यह पेट में जाकर पानी को अवशोषित करती है, जिसके फलस्वरूप कब्ज से राहत मिलती है। किशमिश में पाये जाने वाले फाइबर गैस्ट्रोइंटेस्टिनल मार्ग से विषाक्त और अपशिष्ट पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करते हैं।

    आंखों के लिए फायदेमंद

    किशमिश (Kishmish) में विटामिन ए, ए-कैरोटीनॉइड और ए-बीटा कैरोटीन मौजूद होता है, जो कि आँखों को फ्री रैडिकल्स से लडऩे में मदद करता है। इसमें एंटी ऑक्सीकडेंट गुण भी पाये जाते है। किशमिश खाने से मोतियाबिंद, उम्र बढने की वजह से आँखों में आने वाली कमजोरी, मसल्सण डैमेज आदि नहीं होता।

    शराब से छुटकारा दिलाने में मददगार किशमिश

    किशमिश (Raisins) की मदद से शराब के नशे से छुटकारा पा सकते हैं। शराब पीने की इच्छा होने पर 10 से 12 ग्राम किशमिश को चबा-चबाकर खाएं या इसका शरबत पीएं। जहां एक तरफ शराब पीने से ज्ञान तंतु सुस्त हो जाते हैं, किशमिश खाने से भी शीघ्र ही पोषण मिलता है। इसके चलते मनुष्य उत्साह, शक्ति और प्रसन्नता का अनुभव करने लगता है। यह प्रयोग लगातार करते रहने से कुछ ही दिनों में शराब छूट जाएगी।

    कोलेस्ट्रोल घटा दिल को बनाए सेहतमंद – Raisins Beneficial For Heart

    बहुत कम लोग यह बात जानते है कि किशमिश पूरी तरह से कोलेस्ट्रोल मुक्त होता है। किशमिश में घुलनशील फाइबर बहुत अधिक मात्रा में होता है। यह घुलनशील फाइबर बुरे कोलेस्ट्रोल का विरोध करता है। इसके अलावा किशमिश पोलीफेनोल्स एंजाइम को भी दबाता है जो शरीर में कोलेस्ट्रोल को अवशोषित के लिए जिम्मेदार होता है।

    शरीर की हड्डियों को बनाए मजबूत, पथरी से दिलाए निजात

    किशमिश (Kishmish – Raisins) के नियमित सेवन से कोलेस्ट्रॉल को घटाया जा सकता है। किशमिश कैल्शियम का अच्छा स्रोत हैं जो हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद करता है। गठिया और गुर्दे की पथरी की समस्या से निजाद दिलाने में भी किशमिश मदद करता है।

    ब्लड प्रेशर और दांत के लिए – Raisins For Blood Pressure and Teeth

    किशमिश के सेवन से ब्लड प्रेशर को कम किया जा सकता है। किशमिश मुंह में हानिकारक बैक्टीरिया की वृद्धि को रोकता हैं। इससे कैविटी और दाँत क्षय को रोकने में मदद मिलती है। इसके सेवन से दांत मजबूत होते हैं। जिससे दांत की समस्या कम हो जाती है।




    शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाए

    किशमिश के सेवन से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ जाती है। इसमें भरपूर मात्रा में शुगर पाया जाता है। जो उर्जा बढाने में मदद करता है। किशमिश संक्रमण के खिलाफ शरीर की रक्षा करता है। इसमें मौजूद पॉलीफेनोलिक एंटीऑक्सीडेंट पेट के कैंसर के खिलाफ सुरक्षा प्रदान करता है।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *