कमरुनाग झील – यंहा है अरबों का खजाना – हिमाचल प्रदेश (मंडी)(kamrunag lake mandi)

कमरुनाग झील – यंहा है अरबों का खजाना – हिमाचल प्रदेश (मंडी)(Kamrunag Lake Mandi)

  • Lifestyle हिन्दी
  • no comment
  • इतिहास, धर्म-संस्कृति
  • 2200 views
  • हिमाचल प्रदेश विभिन्न प्रकार के देवीय स्थलों के लिए जाना जाता है! प्रदेश में अनेक झीलें आपको देखने को मिल सकती है और कई छोटी और बड़ी नदियां यंहा से होकर गुजरती है! लेकिन आज हम जिस झील के बारे में आपको बताने जा रहे हैं उसका नाम है कमरूनाग झील! मंडी में स्थित ये चमत्कारी झील इसके अंदर पाए जाने वाले ख़ज़ाने के लिए बहुत प्रसिद्ध है! कहा जाता है इस ख़ज़ाने की रक्षा खुद नाग देवता करते हैं और इस झील का अंत छोर पाताल लोक में जाता है !




    सुंदरनगर से 18 -20 किलोमीटर दूर स्थित ये झील समुद्र तल से लगभग 3300 मीटर ऊंचाई पर स्थित है! रोहांडा स्थान हिमाचल प्रदेश के मण्डी जिले से लगभग 60 किलोमीटर दूर है, जंहा से झील के लिए पैदल यात्रा शुरु होती है! ऊंचाई वाले रास्ते और पहाड़ को पार कर लगभग 8 किलोमीटर के बाद आप इस झील तक पहुँच पाते हैं!




    सदियों से चली आ रही मान्यताओं के अनुसार भक्त झील में सोने-चांदी के गहनें और पैसे डालते हैं। यंहा पर हर साल 14 -15 जून को मेला लगता है जिसमे कहा जाता है के बाबा कमरूनाग दर्शन देते हैं! यह भी कहा जाता है कि इस झील में सोना चांदी चड़ाने से मन्नत पूरी हो जाती है। कुछ लोग अपने शरीर का कोई भी गहना या सिक्के, पैसे आदि इस झील में डाल देतें है। झील पैसों से भरी रहती है, ये सोना-चांदी कभी भी झील से निकाला नहीं जाता क्योंकि स्थानीय लोग इसमें बहुत आस्था रखते हैं और इसे देवताओं का खजाना ही मानते हैं।

    अधिकतर समय पर यंहा इस मंदिर में कोई पुजारी भी नहीं होता! इसका कारण है के ये झील काफी घने जंगल में है और अधिक ऊंचाई पर होने के कारण यंहा बाकि समय काफी बर्फ़ रहती है और झील का पानी भी जम जाता है!

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *