बच्चों को जरूर खिलाएंगे आइसक्रीम (ice cream) जब जानेंगे ये फायदे

बच्चों को जरूर खिलाएंगे आइसक्रीम (Ice cream) जब जानेंगे ये फायदे

  • Lifestyle हिन्दी
  • no comment
  • स्वास्थ्य
  • 534 views
  • अकसर माता-पिता अपने बच्चों को आइसक्रीम या बर्फ से दूर हटाते दिखते हैं। आइसक्रीम मत खाओ, बीमार हो जाओगे या गला खराब हो जाएगा, यह बहुत ही आम बात है। इसमें माता-पिता की बच्चे के बेहतर स्वास्थ्य को लेकर चिंता ज्यादा रहती है। दूसरी ओर बच्चों का आइसक्रीम (Ice cream) के लिए ललचाना सामान्य है। यहां तक कि प्रोढ़ लोगों तक का गर्मियों के मौसम में ठंडी चीजों की तरफ सहज ही खिंचे चले जाते हैं। आइसक्रीम, बर्फ और कोल्ड ड्रिंक्स का इस्तेमाल ज्यादा से ज्यादा करने लगते हैं। अगर आपको आइसक्रीम का स्वाद अच्छा लगता है और यह आपकी आदत में शुमार है तो यह आर्टिकल आपके लिए ाफी फायदेमंद रहेगा। दूध से बनी होने के कारण आइसक्रीम सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है। लजीज स्वाद में आइसक्रीम कई तरह के फ्लेवर में आती है। आइसक्रीम डेयरी उत्पाद से ही बनी होती है जिसमें पोषक तत्व मौजूद होते हैं। ये तत्व शरीर को स्वस्थ बनाते हैं। आइसक्रीम में विटामिन और प्रोटीन भरपूर मात्रा में मौजूद होता है।

    आइसक्रीम खाने के फायदे, लाभ – Ice cream khane ke fayde aur health benefits in hindi




    आइसक्रीम में मौजूद तत्व और उनके स्वास्थ्य लाभ – Health benefits of Ice cream

    कैल्शियम (Calcium) बनाए हड्डियों को मजबूत

    दूध से तैयार उत्पादों में ज्यादा मात्रा में पोषक तत्व कैल्शियम पाया जाता है। कैल्शियम खाने से शरीर की हड्डियां मजबूत होती हैं। शरीर को अच्छे से काम करने के लिए हर रोज समयक मात्रा में कैल्शियम की आवश्यकता होती है। शरीर में मौजूद 99 प्रतिशत कैल्शियम हड्डियों में पाया जाता है। डेयरी उत्पाद खाने से शरीर को कैल्शियम पर्याप्त मात्रा में मिलता है। हर रोज आइसक्रीम जैसे दूध के उत्पाद खाने से शरीर की हड्डियों के पतला और कमजोर होने की बीमारी ऑस्टियोपोरोसिस का खतरा कम होता है। कैल्शियम केवल हड्डियों के लिए आवश्यक नहीं होता बल्कि यह शरीर का वजन भी घटाता है। ऐसे में कैल्शियम का उपभोग शरीर के लिए बहुत उपयोगी है।

    प्रोटीन (Protein) की मौजूदगी बनाए आइसक्रीम को खास

    दूध के अन्य उत्पादों की तरह आइसक्रीम (Ice cream) पोषक तत्व प्रोटीन का अच्छा स्रोत होता है। प्रोटीन शरीर के हिस्सों को हड्डियां, मांसपेशियों, खून और त्वचा के लिए फायदेमंद होता है। प्रोटीन खाने से शरीर के ऊतक और मांसपेशियां मजबूत होती हैं। शरीर के कुछ हिस्से जैसे नाखून और बाल प्रोटीन खाने से ही बने होते हैं। आइसक्रीम खाने से शरीर को प्रोटीन मिलता है। इस तरह व्यायाम और योगा के बाद आइसक्रीम खाया जा सकता है।




    विटामिन (Vitamin) की कमी को करे दूर

    आइसक्रीम में विटामिन ए, बी-2 और बी-12 पाया जाता है। विटामिन ए, त्वचा, हड्डियों और रोग-प्रतिरोधक क्षमता के लिए अच्छा माना जाता है। विटामिन ए आंखों की रोशनी बढाता है। विटामिन बी-2 और बी-12 शरीर के मेटाबॉलिज्म को संतुलित रखते हैं और बी-12 शरीर का वजन घटाने में भी सहायक होता है। अगर आपको दूध पीने में दिक्कत होती है तो आइसक्रीम खाकर विटामिन की कमी को पूरा किया जा सकता है। साथ ही शरीर को अन्य जरूरी पोषक तत्व भी मिल जाते हैं।

    आइसक्रीम (Ice cream) को कई तरह से प्रयोग करें

    आइसक्रीम के कई फ्लेवर होते हैं। हर बार नए फ्लेवर का प्रयोग किया जा सकता है जिससे नया स्वाद और पोषक तत्व शरीर को मिले। फ्रूट आइसक्रीम में कई तरह के फल और सूखे मेवे डाले जाते हैं जिनमें काफी मात्रा में पोषक तत्व मौजूद होते हैं। लंच और डिनर के साथ आइसक्रीम को डेजर्ट के रूप में लिया जा सकता है। इसके अलावा योगा और व्यायाम करते समय आइसक्रीम खाने शरीर को इंस्टेंट ऊर्जा मिलती है। आइसक्रीम को जूस में डालकर भी खाया जा सकता है। मैंगो शेक और बनाना शेक में आइसक्रीम का प्रयोग होता है।

    आइसक्रीम खाते समय एहतियात भी जरूरी – Side Effects Of Ice cream

    कई बार आइसक्रीम खाना सेहत के लिए नुकसानदायक भी हो सकता है। आइसक्रीम खाने से खासकर बर्फ की कुल्फी खाने से गला खराब होने या गले की बीमारी या खांसी-जुकाम हो सकते हैं। साथ ही आइसक्रीम में शुगर काफी मात्रा में होती है। वहीं अधिक मात्रा में कैलोरी पाई जाती है। इसके अलावा बटर और चॉकोलेट आइसक्रीम (Ice cream) भी शरीर के लिए नुकसानदायक होते हैं। इस तरह की आइसक्रीम खाने से डायबिटीज, मोटापे की समस्या शुरू हो सकती है। ज्यादा आइसक्रीम खाने से नुकसान भी हो सकता है। खराब गुणवत्ता की आइसक्रीम खाने से कई तरह की बीमारियां हो सकती हैं। इसके अलावा कई लोगों को आइसक्रीम खाने से सिरदर्द, फूड प्वाइजिंनग जैसी समस्याएं भी हो सकती हैं। ऐसे में आइसक्रीम खाने से पहले उसकी गुणवत्ता की जांच कर लेना चाहिए

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *