पेट की गैस, अपच और खट्टे डकार से ऐसे बचें (acidity gastric problem)

पेट की गैस, अपच और खट्टे डकार से ऐसे बचें (Acidity Gastric Problem)

  • Lifestyle हिन्दी
  • no comment
  • घरेलू नुस्खे
  • 16725 views
  • कहते हैं कि शरीर की हर बीमारी कहीं न कहीं पेट की गड़बड़ी से शुरू होती है। ऐसे में अगर आपका पेट ठीक है तो कई बीमारियों से सहज की बच जाते हैं। हालांकि, मौजूदा भागदौड़ भरी जिंदगी में जहां खाने-पीने का न कोई समय है और न ही कोई नियम, आप कभी भी पेट की गैस (Gas), बदहजमी और खट्टे, बदबूदार डकार की समस्या से दोचार हो सकते हैं। ऑफिस में पार्टी हो या दोस्त-रिश्तेदार की दावत, खाने पर काबू रखना तो मुश्किल है लेकिन कुछ एहतियात और घरेलू नुस्खों को ध्यान में रखकर शादी-समारोह और पार्टी का जमकर लुत्फ उठाया जा सकता है।

    व्यस्त जीवन ने बिगाड़ी सेहत – Gas aur Acidity Ke Karan




    ६० साल की आयु के के बाद तो पेट में गैस (Gastric Problem) और अपच की समस्या आम बात है लेकिन आजकल तो बच्चों, युवाओं और महिलाओं में पेट गैस की समस्या आम हो गई है जो चिंताजनक है। इसका कारण मौजूदा खान-पान और हमारा व्यस्त जीवन है जो गैस या एसिडिटी (Acidity) कर हमारा स्वास्थ्य बिगाड़ रही है। गैस या एसिडिटी के अलावा पेट में एसिड की मात्रा बढऩे से अपाच्य भोजन, पेट और सीने में जलन भी होती है।

    अस्वस्थ जीवन शैली जिम्मेवार

    गैस की समस्या से वायरल ज्वर, पथरी, ट्यूमर या अल्सर इत्यादि कई रोग शरीर को पकड़ लेते हैं। शरीर में गैस और बदहजमी के लिए अत्याधिक भोजन, मानसिक तनाव, पाचन के लिए अनुपयुक्त भोजन, शराब का सेवन, मसालेदार और तला हुआ भोजन प्रमुख कारण हैं। गैस की समस्या (Gastric Problem) होने के मुख्य लक्षण उल्टी, दस्त, पेट में तीखी जलन और भोजन का अपच रहना आदि हैं। एसिडिटी (Acidity) का पता चलते ही इसका उपचार शुरू में ही उपचार आवश्यक है।

    सीने और गले में जलन

    पेट में गैस होने पर सीने में जलन होने का मुख्य कारण पेट में मौजूद एसिड होता है। इस एसिड के इसोफेगस में आने से गले में जलन होती है। इसके चलते कुछ भी खाना मुश्किल हो जाता है। इसके चलते कई बार हार्ट अटैक की समस्या भी हो सकती है। पुरुषों के मुकाबले महिलाओं में यह समस्या ज्यादा देखने को मिलती है। कब्ज का शिकार लोगों को गैस की समस्या ज्यादा परेशान करती है।

    एसिडिटी दूर करने के कुछ घरेलू नुस्खे – Acidity gas problem solution in hindi – Gas aur acidity ke liye gharelu Upay/ilaj

    हर्बल चाय से पाएं गैस के दर्द से तुरंत निजात
    मौजूदा दौर में चलन में आई हर्बल चाय गैस की समस्या दूर करने मेें बहुत कारगर हैं। गैस का दर्द ठीक करने में पुदीने, जामुन और ग्रीन टी से बनी हर्बल चाय काफी मददगार साबित हुई हंै।




    हल्दी वाला दूध लाभकारी

    एसिडिटी (Acidity) से होने वाली सीने की जलन को ठीक करने में हल्दी वाला दूध पीना बहुत लाभकारी माना गया है।

    खूब पानी पीएं

    गैस की समस्या (Gastric Problem) अगर रहती है तो रोजाना दिन में कम से कम ६-७ गिलास पानी पीएं। गैस के अलावा कब्ज जैसी अन्य पेट की समस्याओं से भी छुटकारा मिल जाएगा।

    अदरक से लाभ

    पेट गैस की शिकायत होने पर खाना खाने के बाद अदरक का एक टुकड़ा चूसते रहें। यह गैस दूर करने में सहायक होगा।

    उपवास भी फायदेमंद

    पेट में गैस (Gastric Problem), बदहजमी, अपच या खट्टे ढकार होने पर उपवास करें। बहुत ही हल्का सूप बिना मसाले का पी सकते हैं। इससे पेट हल्का होगा और गैस दूर होगी।

    लहसुन से लाभ

    लहसुन को भी गैस की समस्या दूर करने में इस्तेमाल किया जाता है। लहसुन को पीस कर इसमें काली मिर्च, धनिया और जीरे को मिलाकर उबालें और इसका रस निकाल लें। इस घोल को रूम टेंपरेचर तक आने पर पी लें, लाभ मिलेगा।

    हींग रामबाण औषधि

    पेट की गैस (Gastric Problem), एसिडिटी (Acidity) और बदहजमी दूर करने के लिए हींग एक रामबाण औषधि है। कब्ज, उदर वायु, पेट दर्द होने पर एक गिलास गर्म पानी में हींग मिलाकर पीने से आराम निश्चित आराम मिलेगा।

    पुदीना और नारियल पानी भी कारगर

    पेट की गड़बउ़ा, गैस या अपच होने पर पुदीने की पत्तियों को उबाल कर इसमें शहद मिलाकर पीने से यह तकलीफ दूर हो जाती है। नारियल पानी में मौजूद विटामिन गैस कि समस्या दूर करते हैं।

    खट्टे डकार से बचने के घरेलू उपचार

    छाछ के एक कप में एक चम्मच काला नमक और एक चम्मच अजवायन मिलाकर पीने से गैस की समस्या में दूर होती है।

    बेकिंग सोडा और नींबू




    ताजे नींबू का रस निकालकर उसे एक गिलास में डालें। इसमें चुटकी भर बेकिंग सोडा डाल कर पी ले, गैस में तुरंत आराम मिलेगा।

    धनिया गैस में उपयोगी

    धनिये की पत्तियों को कच्चा खाने या आधा गिलास लस्सी में भुने धनिये के बीज पीसकर डालें और पी लें। आराम मिलेगा।

    गैस को कम करने के तरीके

    भोजन में बीन, मटर, केक, कार्बोनेट सामग्री, खट्टे फल, फूल गोभी, बंद गोभी, काजू, सुपारी आदि से अधिक गैस बनती है। इनके सेवन से बचें। गैस भगाने में सेंधा नमक खाना लाभकारी है। योग करना और खाने के बाद घुटने मोडक़र बैठना और दोनों हाथों को घुटनों पर रख इस अवस्था में ५-१५ मिनट मिनट तक बैठें।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *